Take Your Mind to Task Everyday – Controlling the Mind

Therefore, my dear Atman!  If you desire to attain your supreme good then you must constantly counsel your mind and convince it, “O restless mind!  Now be quiet and steady.  Why do you disturb me by wandering all the time?  Has anybody every attained true happiness in the external world?  Whoever has experienced true happiness,…

Continue Reading Take Your Mind to Task Everyday – Controlling the Mind

स्वामी श्री लीलाशाहजी महाराज

सिंधु देश समय समय पर ऐसे लालों को जन्म देता रहा है, जिन पर मनुष्य जाती को गर्व है| एक सौ तेरह वर्ष पहले एक ऐसा लाल सिंधु ने उत्पन्न किया, जिन्होंने अपनी सुगंध केवल सिंध और हिन्दी में ही नहीं, अपितु विदेशों में भी फैलाई | उन पर संधियों…

Continue Reading स्वामी श्री लीलाशाहजी महाराज

End of content

No more pages to load